त्वचा से तेल कैसे निकलता हैं

देखिए आप से अगर कोई यह पूछ ले कि हमारे skin का moist रहना क्यों जरूरी है, moist मतलब हमारे skin में थोड़ी सी नमी या थोड़ा सा गीलापन यह क्यों जरूरी है ? बहुत थोड़ा सा… तो आप क्या जवाब दोगे, आप अगर थोड़े बहुत जानकार हो तो आप यह बताओगे कि अगर आपकी स्किन moist है तो आपकी स्किन ज्यादा लुब्रिकेट हो पाएगी, मतलब उस मे friction नहीं होगा और moisturization के acidic नेचर होने के कारण इसमें कोई भी बाहरी pathogen हमारे skin को भेदकर हमारे अंदर नहीं जाएगा और तो और ये हमें थोड़ा बहुत uv rays से भी बचा सकता है। अब जाहिर सी बात है कि जो मॉइश्चराइजेशन हमारे स्किन के लिए इतना जरूरी है उसके लिए प्रकृति ने हमारे लिए कोई न कोई व्यवस्था तो जरूर ही किया है। और आज उसी व्यवस्था के बारे में ही हमें जानना है।

देखिये वह व्यवस्था हमारे स्किन के dermis लेयर में प्रकृति ने सेबेशस ग्लैंड के रूप में हमें दिया है। जो क्या करता है sebum नाम का एक ऑयल बनाता है। और हमारे स्किन पर फैला देता है जिससे स्किन हमेशा मोस्ट बनी रहती है।

देखी जैसा कि मैंने आपको पिछले की वीडियो में बताया है कि हमारी स्किन 3 लेयर से मिलकर बनी हुई होती है। ऊपर की लेयर एपिडर्मिस बीच वाली layer dermis जो कि सबसे ज्यादा मोटी होती है। उसके नीचे कनेक्टिव टिशु और फैट की सबकी subcutaneous layer जिसे हाइपोडर्मिस कहते हैं। यह जो dermis की layer होती है। इसमें हमारे sweat gland होते हैं, जिससे हमें पसीना आता है। हमारे हेयर फॉलिकल होते हैं। हमारे छोटे 2 बाल होते हैं, इसी layer में से होते हैं, और इन्हीं हेयर फॉलिकल से लगा हुआ एक sac लाइक स्ट्रक्चर जिसमें बहुत सारे गुच्छे होते हैं, वह भी जुड़ा रहता है। इस structure को sebeceous gland के नाम से हम लोग जानते हैं।

यह sebeceous gland epithelial cell से बना हुआ होता है। होता क्या है कि यह जो epithelial cell होते है, यही rupture होकर ऑयल बना लेते हैं। जिसे sebum कहते हैं, और सेबेशस ग्लैंड के डक्ट से होते हुए ये sebum हमारे हेयर फॉलिकल के pore से होते हुए हमारे स्किन पर जाकर फैल जाते हैं। sebum का ph वैल्यू3 4.5 से 6.2 तक होता है, यानी एसिडिक नेचर का, इसीलिए कोई भी pathogen बैक्टीरिया वायरस हमारे skin को भेद कर हमारे अंदर नहीं जा पाता है। sebum में lipid lock mositure होता है, इसलिए uv rays हमारे स्किन को पेनिट्रेट होने से थोड़ा-बहुत रक्षा करते और लिपिड होने के कारण यह हमारे स्किन को हल्का चिकना अभी बना देता है, जिससे फ्रिक्शन नहीं होता है।

अब देखिए अगर यही जो हेयर फॉलिकल के pore है यह बंद हो जाते हैं, मतलब किसी तरीके से कोई कचरा फंस जाता है, इस pore में और sebum नहीं निकल पाता है, तो यही कील मुंहासे के रूप में हमारे skin में दिखते है, अगला वीडियो सुपर बनाऊंगा

Previous articleत्वचा गोरी या काली कैसे हो जाती है
Next articleकील मुहांसे क्यों होते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here