रीफर्बिश्ड फोन क्या होता है?रिफर्बिश्ड मीनिंग इन हिंदी।

नमस्कार दोस्तों, आपने Refurbished शब्द के बारे में कहीं तो सुना ही होगा. चाहे वह नया मोबाइल खरीदते समय हो या लैपटॉप या फिर आपने इंटरनेट पर किसी भी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर खरीदारी करते समय देखा होगा।

लेकिन क्या आपको पता है। Refurbished का क्या अर्थ है। इस पोस्ट में मैं आपको Refurbished से जुड़ी सारी जानकारी देने जा रहा हूं।भले ही आप इसके बारे में पहले से जानते हों। लेकिन इस पोस्ट को पूरा पढ़ें। जो आपको Refurbished एक्सेसरीज खरीदने में काफी मदद करेगी. और आप एक सही प्रोडक्ट का चुनाव कर पाएंगे।

रिफर्बिश्ड मीनिंग इन हिंदी।

refurbished शब्द के कई अर्थ हैं। जैसे कि इनोवेशन, रेनोवेटिंग और डेकोरेटिंग।रीफर्बिश्ड उत्पाद जिन्हें हम सेकेंड हैंड उत्पाद भी कह सकते हैं। जो बिल्कुल नए उत्पाद की तरह है। वे पहले किसी के द्वारा खरीदे या अनबॉक्स किए गए हैं। पसंद-

कोई भी नया प्रोडक्ट बेचने के बाद उसमें कोई दिक्कत आती है। और यह ग्राहक द्वारा उसकी वापसी नीति के तहत वापस किया जाता है।
इसके बाद कंपनी उत्पाद की मरम्मत करती है और उत्पाद की कीमत कम करके री-बैच करती है। इसे रिफर्बिश्ड कहते हैं। इसमें प्रोडक्ट में कोई दिक्कत नहीं होती कंपनी प्रोडक्ट को फिक्स करके देती है।

रीफर्बिश्ड फोन क्या होता है?

रिफर्बिश्ड क्या है (refurbished meaning in hindi) जानने के बाद यह जानना भी जरूरी है कि Refurbished Mobile क्या है ? वैसे तो आजकल कई इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट्स रीफर्बिश में उपलब्ध हैं, लेकिन ज्यादातर लोग रिफर्बिश्ड फोन लेते हैं। तो आइए जानते हैं इसके बारे में।

जब हम किसी ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाइट से फोन लेते हैं। और अगर इसमें कोई खराबी है या आपको यह पसंद नहीं है। हम इसे इसकी वापसी नीति के तहत लौटाते हैं।

उसके बाद कंपनी उस फोन को दोबारा रिपेयर करके Refurbished की कैटेगरी में डाल देती है। और इसकी वास्तविक कीमत से थोड़ा कम पर पुनः बैच करें। इसे रीफर्बिश्ड फोन कहा जाता है।

फोन के साथ-साथ आप रीफर्बिश्ड लैपटॉप, टीवी, 
फ्रिज आदि भी खरीद सकते हैं। लेकिन रिफर्बिश्ड को भी अलग-अलग ग्रेड में बांटा गया है। इसलिए सबसे पहले इसके बारे में जानना जरूरी है।

रीफर्बिश्ड फोन ग्रेडिंग ?

अगर आप एक रिफर्बिश्ड फोन लेने की सोच रहे हैं। इसलिए उनकी ग्रेडिंग के बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी है। उनकी स्थिति के अनुसार ग्रेडिंग दी जाती है। जिसे आप नीचे पढ़कर समझ सकते हैं।

ग्रेड ए: ये फोन बिल्कुल नए जैसे हैं। जैसे किसी को नया फोन मिल गया और पसंद नहीं आया तो उसने वापस कर दिया। ये फोन रिफर्बिश्ड ग्रेड ए में आते हैं।

ग्रेड बी: ये फोन भी बिल्कुल नए जैसे हैं। लेकिन इनमें कुछ खराबी के कारण ग्राहक द्वारा इसे
वापस कर दिया जाता है। और फिर कंपनी इसे रिपेयर करके फिर से बेचती है।

ग्रेड सी: यूज्ड फोन इस कैटेगरी में आते हैं। जिसे हम ‘यूज्ड फोन’ भी कह सकते हैं। इनका उपयोग 6 महीने या 1 साल या उससे भी कम या ज्यादा के लिए किया जाता है।

ग्रेड डी: बिल्कुल सेकेंड हैंड फोन इस कैटेगरी में आते हैं। जो बहुत पुराने हैं। लेकिन उनका शरीर पूरी तरह से रिपेयर हो जाता है। लेकिन यह अंदर से पुराना है।

रीफर्बिश्ड और यूज्ड फोन के बीच अंतर

अब मैं आपको रिफर्बिश्ड और यूज्ड फोन में अंतर बताऊंगा। ताकि आप फोन खरीदने से पहले सही फैसला ले सकें कि आप असल में कौन सा फोन लेना चाहते हैं।

रिफर्बिश्ड: ये वो फोन हैं। बिल्कुल नए फोन की तरह। ग्राहक द्वारा वापसी पर कंपनी द्वारा इसका पूरी तरह से परीक्षण किया जाता है। साथ ही रिफर्बिश्ड हैंडसेट में करीब 6 महीने की वारंटी दी जाती है। और इसमें एक नया मूल्य जुड़ जाता है। इसके बाद इसकी बैचिंग की जाती है।

यूज्ड: ये यूज्ड फोन हैं। बेचने से पहले उनकी जांच या मरम्मत नहीं की जाती है। और ये हैंडसेट वारंटी के साथ नहीं आते हैं। ये फोन आमतौर पर रीफर्बिश्ड फोन की तुलना में कम कीमत में उपलब्ध होते हैं।

रीफर्बिश्ड फोन क्या होता है?रिफर्बिश्ड मीनिंग इन हिंदी।
Previous articleटीआरपी क्या है? – टीआरपी का फुल फॉर्म क्या है?
Next articleघर बैठे इंटरनेट से पैसे कमाने के तरीके – ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए ?