विज्ञापन क्या होता है ?विज्ञापन के कितने प्रकार है?

क्या आपने कभी ये सोचा है की आखिर ये विज्ञापन क्या है,क्या होता है ? आखिर लोगो को इससे क्या क्या फायदा मिलता होगा। शायद ही आपने इसके बारे में हम जानने की कोशिश करेंगे,तो चलिए आज हम इसके बारे में विस्तार से जान लेते है.

विज्ञापन क्या होता है ?

विज्ञापन एक ऐसा माध्यम या तरीका है, जिसमे लोगो को किसी उत्पाद या सेवा के बारे ज्यादा से ज्यादा जानकारी अच्छे से दी जाती है, जिससे लोग ज्यादा से ज्यादा उसकी तरफ आकर्षित हो जाये और उसे खरीदे.

विज्ञापन किसी एक क्षेत्र तक ही सिमित नहीं है.इसे टीवी,अख़बार,सोशल मीडिया,इंटरनेट आदि पर अलग-अलग तरीको से किया जा रहा है,यह जरुरी नहीं होता है की Advertisement में दिखाई जानकारी हमेशा सही ही हो.

ज्यादातर विज्ञापन इंटरनेट के माध्यम से किया जाता है,और यह इंडस्ट्रियों के उत्पादित सेवा और प्रोडक्ट की बिक्री बढ़ने में बहुत ही कारगर भी होता है.

विज्ञापन कई रूपों में होता है जैसे ऑडियो,इमेज,वीडियो,टेक्स्ट आदि और इसमें उत्पादित वस्तु या सेवा पर विज्ञापन निर्माता का सम्पूर्ण नियंत्रण होता है. अब तो आपको समझ में आ गया होगा की विज्ञापन का मतलब क्या होता है.

विज्ञापन के कितने प्रकार है…?

Social Media
सोशल मीडिया में विज्ञापन जिसे हम सोशल मीडिया मार्केटिंग के नाम से भी जानते है,यह डिजिटल मार्केटिंग का एक हिस्सा है।

इसमें कम्पनियाँ अपने उत्पादि प्रोडक्ट या सेवा सोशल मीडिया के माध्यम से प्रमोट करवाती है.जिससे इनकी ज्यादा से ज्यादा बिक्री हो सके.

वर्तमान में सबसे ज्यादा सोशल मीडिया मार्केटिंग के लिए Facebook,Instagram,Twitter,Linkdin,Pintrest,Youtube, Google और Snapchat जैसी वेबसाइट का उपयोग सबसे ज्यादा किया जा रहा है.

२. Television

यह एडवरटाइजिंग का अधिक महँगा माध्यम हैं,किसी भी छोटे बिज़नेस के लिए इसे उपयोग करना काफी ज्यादा महँगा होता है.

इस माध्यम से लोग विसुअल विज्ञापन देख सकते है और इसमें अधिकतर वीडियो के माध्यम से किसी टीवी सीरियल या प्रोग्राम के बिच-बिच में वीडियो के माध्यम से एड्स दिखाए जाते है.

विज्ञापन दाता के उत्पाद को कोई खरीदता है,या फिर उनकी सेवा से कोई जुड़ता है तो उन्हें अच्छा पैसा मिलता है,लेकिन एक एडवरटाइजर के लिए पहले से ही पैसे फिक्स होता हैं.जिसमे उसे ऐड करना होता हैं.

३. Radio

रेडियो के माध्यम से विज्ञापन अब इतना प्रभावी नहीं रहा है,क्योंकी रेडियो से MP3  गानो को सुनने वाले लोगो की संख्या वर्तमान में बहुत ही कम रह गयी है.

और इसमें टीवी की तरह विसुअल विज्ञापन तो होता दिखाई नही देता है इसीलिए इसमें विज्ञापन सिर्फ सुनाई देता है, और ज्यादातर रेडियो का उपयोग करने वाले ड्राइवर लोग होते है.

फिर भी जिओ सावन और गाना जैसे बड़े ऍप पर ऑडियो ऐड आते है जो लोगों को इन ऍप से गाने सुनते वक्त दिखाई देते हैं।

४. Print Media

इन विज्ञापनों को Newspaper और Magzine के माध्यम से ही Visual इमेज के साथ लोगो को दिखाया जाता है.

ये विज्ञापन कुछ समय के लिए ही बहुत ही प्रभावी होते है और इनको बनाने के लिए इमेज को काफी अच्छे से डिज़ाइन किया जाता है। ये विज्ञापन तभी ज्यादा प्रभावी होते हैं जब इन्हे देखा जाता है।

आपके बिज़नेस के लिए Newspaper ज्यादा से ज्यादा affordable साबित हो सकते है,क्योंकि बाकि Vigyapan की तुलना में इसकी कीमत बहुत ही कम लगती है.

विज्ञापन क्या होता है ?विज्ञापन के कितने प्रकार है?
Previous articleभारत का सबसे अमीर गांव कौन सा है ?
Next articleमेटावर्स क्या है? – मेटावर्स कैसा दिखने वाला है?