काला नमक और सेंधा नमक में क्या फर्क है

काला नमक और सेंधा नमक में क्या फर्क है – जैसा कि आप जानते हैं कि भारत एक बहुत ही प्राचीन संस्कृति वाला देश है. यहां पर खान-पान बहुत ही ज्यादा विकसित है.

क्योंकि भारत में संस्कृति बहुत पहले से ही तरह तरह के खाद्य पदार्थ बनाने में लगे हुए थे.

एक बहुत ही साधारण सी चीज है जो भारत के हर घर में पाया जाता है और पाया भी जाएगा।

क्योंकि वो भारत की संस्कृति का हिस्सा है वह काला नमक और सेंधा नमक.

दोनों ही प्राचीन काल से ही भारत में इस्तेमाल किया जाता है और विदेशों में इसे लेकर भारत के प्रति काफी अच्छा आश्चर्य भी किया जाता है.

यह बताता है कि भारत की संस्कृति खाद्य पदार्थ में कितनी ज्यादा उन्नत थी उस समय भी.

जो कि आज तक चला रहा है. क्या आपको पता हैं काला नमक बनता कैस हैं ? सेंधा नमक कैसे बनता हैं ?

और इन दोनों में अंतर क्या होता है ? अगर आपको नहीं पता है तो आज आपको बता ही देता है…

क्या होता हैं सेंधा नमक –

अपने अक्सर सेंधा नमक के बारे में सुना होगा। लेकिन आपको पता है कि सेंधा नमक क्या होता है और ये बनता कैसे है ? कहां मिलता है ?

दरअसल सेंधा नमक भी साधारण नमक Nacl का ही रूप होता है.

जो कि पत्थरों के क्रिस्टल के रूप में पाया जाता है.

मुख्यतः हिमालय में पाया जाता है इसलिए इसे हिमालय नमक भी कहा जाता है

और इसे भारत में प्राचीन संस्कृति से ही इस्तेमाल किया जाता है बहुत पहले से ही.

साधारण रूप से इस नमक का रंग सफेद या हल्का पीला भी होता है.

लेकिन कुछ इंप्योरिटीज मिलने के कारण इस नमक का रंग नीला, भूरा, जामुनी, पिंक कई रंग तक का हो सकता है.

जिसमें कई तरह के पदार्थ के मिले होने का संकेत होता है.

इसीलिए नमक का प्रयोग स्वास्थ्य कारणों के लिए भी करते हैं.

काला नमक और सेंधा नमक में क्या फर्क है

क्या होता है काला नमक –

काला नमक भी साधारण नमक ही होता है. लेकिन इसको बनाने के लिए कुछ तैयारियां करनी पड़ती है, जी हां इसे कृत्रिम रूप से बनाया जाता है.

दरअसल सबसे पहले नमक को पानी में घोलकर बिल्कुल एक लिक्विड बना लेते हैं.

उसके बाद इसमें हरड़ के बीज डालकर इसे उबाला जाता है.

हरड़ के बीज को डालकर उबालने की वजह से इसका रंग काला हो जाता है.

उबालने की वजह से पानी तो भाप बनकर उड़ जाता है. लेकिन जो बचा हुआ प्रोडक्ट नीचे होता है वह काला नमक ही होता है.

दरअसल इसे सुखाये जाने से पानी को निकालकर क्रिस्टलीकृत करके काला नमक बना दिया जाता है.

पीसने पर गुलाबी रंग का हो जाता है. इसका आयुर्वेदिक चिकित्सा में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है.

और केवल भारत उपमहाद्वीप में ही बनाया जाता है. जिसका उद्गम भारत माना जाता है.

काला नमक और सेंधा नमक में क्या फर्क है
काला नमक और सेंधा नमक में क्या फर्क है

kala namak vs sendha namak in hindi –

  • काला नमक भी साधारण नमक ही होता है. बस इसमें हरड़ के बीजों को डालकर उबाला जाता है. इसलिए इसका रंग काला होता है.
  • सेंधा नमक समुद्र में नहीं पाया जाता है, बल्कि यह झीलों और पहाड़ों के ऊपर पत्थरों के रूप में पाया जाता है. इसलिए इसे रॉक साल्ट भी कहते हैं.
  • काले नमक का रंग हरड़ के बीजों के कारण से काले रंग का होता है
  • वही सेंधा नमक का रंग वस्तुतः सफेद या भूरा ही होता है. लेकिन कुछ इंप्योरिटी मिल जाने के कारण यह लाल भूरा पिंक जामुनी कई रंगों में हो सकता है.
  • सेंधा नमक का प्रयोग व्रत में किया जाता है वही काला नमक का प्रयोग व्रत में नहीं किया जा सकता।

नंगा पर्वत कहाँ हैं – nanga parbat in hindi || भारत का सबसे दर्शनीय रेलमार्ग कौन सा है?

दिमाग कैसे सूचनाओं की अनदेखी करता है || left handed और right handed वालों में से कौन ज्यादा बुद्धिमान