मिर्जापुर जिले में कुल कितने गांव है?

देखिए आप सब मिर्जापुर वेब सीरीज के कारण मिर्जापुर जिले को अब जान ही गए होंगे. मिर्जापुर उत्तर प्रदेश के दक्षिण पूर्वी छोर पर पड़ता है कामा

बनारस के यहां से बहुत पास है और इलाहाबाद भी यहां से बहुत ज्यादा दूर नहीं। मतलब बनारस और इलाहाबाद के मध्य मिर्जापुर जिला है जो कि गंगा नदी के किनारे ही हैं गंगा नदी के दक्षिणी छोर पर।

देखिए मिर्जापुर जिला लगभग 4521 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है और कभी यह उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा जिला हुआ करता था जब सोनभद्र इस जिले का ही हिस्सा हुआ करता था। लेकिन 4 मार्च 1989 को मिर्जापुर से एक अलग जिला सोनभद्र बना दिया गया, जिसके बाद से ही मिर्जापुर एक आर्थिक संकट से जूझने लगा। क्योंकि सोनभद्र अपने आप में एक बहुत ही बड़ा खजाना है, खनिज के रूप मे…

मिर्जापुर जिले में टोटल 1967 गांव है। चुकी मिर्जापुर जिला पूरी तरीके से विंध्य के पठारों ऊपर है इसलिए यहां पर जनसंख्या कम है और यहां पर गांव की संख्या भी अपने पड़ोसी जिलों से थोड़ा कम है।

मिर्जापुर जिले में कुल 4 तहसील है। पहला तहसील मिर्जापुर सदर, दूसरा तहसील चुनार, तीसरा तहसील मड़िहान, चौथा तहसील लालगंज।

मिर्जापुर तहसील में कुल 661 गांव है, मिर्जापुर तहसील का कुल क्षेत्रफल 1160 किलो मीटर स्क्वायर है।

चुनार तहसील 1037 किलोमीटर स्क्वायर में फैला हुआ है, जहां पर कुल 594 गांव है। अल्पविरा

मड़िहान तहसील में कुल 294 गांव है, यहां का क्षेत्रफल 863 किलोमीटर स्क्वायर है।

वही मिर्जापुर का लालगंज तहसील 1345 किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है, और यहां पर कुल 418 गांव हैं।

मिर्जापुर जिले में कुल कितने गांव है?
Previous articleउत्तर प्रदेश का सबसे दबंग जिला कौन सा है?
Next articleकंप्यूटर क्या है – what is computer in hindi