उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा महानगर – biggest city in up

उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा महानगर – उत्तर प्रदेश भारत का दूसरा ऐसा राज्य है जहां पर बहुत ही ज्यादा महानगर हैै.

उत्तर प्रदेश से पहले महाराष्ट्र है जहां पर कुल 27 महानगर मौजूद है कारण यह है कि महाराष्ट्र मेंं शहरी जनसंख्या बहुत ज्यादा है.

वहां पर लोग गांवों में कम रहते हैं.

लेकिन यूपी किसी से कम नहीं यहां पर कुल 17 महानगर मौजूद है.

क्योंकि उत्तर प्रदेश की अधिकतम जनसंख्या ग्रामीण है.

इसलिए यहां पर 23 करोड़ की जनसँख्या होने के बाद भी यहां पर महानगरों की संख्या कम है.

यह बात विचारणीय है कि 12 करोड़ के जनसंख्या वाले महाराष्ट्र में अधिकतम जनसंख्या शहरी है और 23 करोड़ वाले यूपी में शहरी जनसंख्या कम है.

होगा भी क्यों नहीं क्योंकि महाराष्ट्र में खेतिहर जमीन बहुत ही कम है वही यूपी खेती के लिए जन्नत है.

इसलिए यहां पर शहरी जनसंख्या कम है पर कोई बात नहीं आज इस आर्टिकल में हम यह जानेंगे कि उत्तर प्रदेश में सबसे बड़ा महानगर कौन सा है….

उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा महानगर –

1. कानपुर –

कानपुर उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा महानगर है क्योंकि कानपुर में उत्तर प्रदेश की सबसे ज्यादा जनसंख्या निवास करती है. शहरीकरण के मामले में.

कानपुर में कुल 30 लाख शहरी जनसंख्या रहती है.

जो कि उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा है और कानपुर के शहर का विस्तार भी 403 किलो मीटर स्क्वायर में है,

जो की समुद्र तल से 126 मीटर की ऊंचाई पर है और यहां पर लोगों को कनपुरिया कहा जाता है.

2. लखनऊ –

लखनऊ उत्तर प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा महानगर है और उत्तर प्रदेश की राजधानी भी है.

लखनऊ में कुल 29 लाख लोग रहते हैं जो कि लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं. यहां का शहरी क्षेत्र 349 किलो मीटर स्क्वायर के क्षेत्र में फैला हुआ है

और निरंतर बढ़ता ही जा रहा है. समुद्र तल से लखनऊ मात्र 123 मीटर की ऊंचाई पर है.

और यहां पर पूरी तरीके से सपाट जमीन है इसलिए लखनऊ बहुत ही हरा-भरा जगह है.

यहां के लोगों को लखनवी कहा जाता है.

3. गाजियाबाद –

पश्चिमी उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा नगर गाजियाबाद उत्तर प्रदेश का तीसरा सबसे बड़ा महानगर है.

होगा भी क्यों नहीं क्यूंकि ये है दिल्ली एनसीआर का हिस्सा है.

यहां पर खचाखच भीड़ है और निरंतर बढ़ता जा रहा है.

बल्कि आने वाले दिनों में यह उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला शहर भी बन जाएगा।

गाजियाबाद में कुल 25 लाख शहरी जनसंख्या है.

और शहरी क्षेत्र अभी तो मात्र 210 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है.

पर दिल्ली के क्षेत्र में होने के कारण यहां पर शहरीकरण बहुत ही ज्यादा तेजी से हो रहा है.

यहां के लोगों को गाजियाबादी ही कहा जाता है.

4. आगरा –

आगरा उत्तर प्रदेश का चौथा सबसे बड़ा शहर है आगरा में कुल 18 लाख लोग रहते हैं

और आगरा का शहरी विस्तार मात्र 100 किलोमीटर स्क्वायर के क्षेत्र में फैला हुआ है.

ब्रज क्षेत्र में आने वाला उत्तर प्रदेश का यह हिस्सा अपने ताजमहल के लिए पूरे विश्व भर में मशहूर है.

5. वाराणसी –

वाराणसी यानि बनारस उत्तर प्रदेश का पांचवा सबसे बड़ा महानगर है.

यहां पर कुल 16 लाख की शहरी जनसंख्या है, पर निरंतर बढ़ती जा रही है.

शहर बहुत ही ज्यादा पुराना है इसलिए यहां पर बहुत ही ज्यादा तंग गलियां हैं जहां पर आना जाना बहुत ही मुश्किल है.

नगर हमेशा ही ट्रैफिक जाम से त्रस्त रहता है.

शहर का विस्तार 112 किलो मीटर स्क्वायर के क्षेत्र में फैला हुआ है.

यहां पर हिंदी भोजपुरी उर्दू जैसी भाषाएं बोली जाती हैं.

भारत का सबसे बड़ा शहर || भारत का सबसे सुन्दर राज्य ||

दुनिया का सबसे बड़ा पुल|| भारत का सबसे पुराना रेलवे स्टेशन ||

भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन || भारत का सबसे बड़ा राज्य ||

तमिलनाडु का रहन सहन कैसा हैं|| भारत का सबसे लम्बा प्लेटफार्म ||

भारत का सबसे लम्बा रेल मार्ग || भारत का सबसे लम्बा तटरेखा वाला राज्य