भारत में कोयला का सर्वाधिक उत्पादन किस राज्य में होता है

भारत दुनिया में कोयला का भंडार के मामले में दुनिया में पांचवें नंबर पर आता है और कोयला के उपभोग के मामले में दुनिया में चौथे नंबर पर आता है. भारत से आगे अमेरिका रूस चीन ऑस्ट्रेलिया जैसे देश है. जहां पर कोयला बहुत ज्यादा मात्रा में पाया जाता है

और इसमें से अगर केवल रूस को निकाल देंगे तो चीन अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया दुनिया में सबसे ज्यादा कोयला का उपयोग करते हैं. अपने ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने के लिए. कोयला एक जीवाश्म इंधन है जो करोड़ों साल पहले जीवो के मरने की वजह से जमीन के अंदर दबने से बने हैं.

भारत में सबसे अधिक चीनी उत्पादन किस राज्य में होता है

यह बहुत ही ज्यादा काम की चीज है और भारत में सबसे पहले कोयला का खान 1774 में अंग्रेजों द्वारा शुरू किया गया था. जब बंगाल के रानीगंज में उन्होंने बहुत ज्यादा खनन कर वहां के प्रकृति को पूरी तरीके से नुकसान पहुंचा दिया था. भारत में एक अनुमान के मुताबिक 301 टन कोयला सुरक्षित पड़ा हुआ है.

भारत का सबसे पुराना रेलवे स्टेशन कौन सा हैं

जो भारत के लिए एक खजाना की तरह ही है. अगर यह न हो तो भारत में ऊर्जा की जरूरतों को पूरा नहीं किया जा सकेगा। जान लेते हैं भारत में सबसे ज्यादा कोयला का उत्पादन किस राज्य में होता है…

कोयला का सर्वाधिक उत्पादन करने वाला राज्य –

हर साल 127.95 करोड़ टन कोयला के उत्पादन के साथ छत्तीसगढ़ भारत में सबसे पहले स्थान पर है. जहां पर सबसे ज्यादा कोयला उत्पादित किया जाता है. छत्तीसगढ़ पूरी तरीके से जंगलों का एरिया है और दक्षिण और मध्य छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा कोयला का उत्पादन किया जाता है.

भारत में कितनी नदिया हैं

कारण यहाँ पर आज भी बहुत ही घने जंगल हैं जो यह बताते हैं कि प्राचीन काल में यहां पर बहुत ही ज्यादा घने जंगल थे जहां पर बहुत सारे जीव रहते थे। जो कोयले में बदल गए हैं. भारत में कोयले के उत्पादन के मामले में झारखंड दूसरे नंबर पर है. जहां पर 113.14 मिलियन टन कोयले का उत्पादन होता है.

भारत में कॉफी का सबसे ज्यादा उत्पादन कहां होता है

झारखंड छत्तीसगढ़ राज्य से सटा हुआ है. झारखंड भी भारत में कोयले का हब की तरह जाना जाता है. धनबाद का कोयला तो पूरे भारत में प्रसिद्ध है. झारखंड के बाद कोयला उत्पादन के मामले में उड़ीसा आता है. जहां पर 112 मिलीयन टन कोयला हर साल यहां पर उत्पादित होता है.