धात गिरने से क्या होता हैं – dhat ki dawa

आज आपकी एक ऐसी समस्या का समाधान कर दिया जाएगा जो आपको बहुत समय से परेशान कर रही है. उसका कोई तर्क तो नहीं बनता है लेकिन वह आपके दिमाग में बैठ गया है कि यार यह तो गलत है यह चीज मुझे नपुंसक बना देगी. इस चीज से मेरा वीर्य लॉस हो रहा है.

यह मुझे आगे बच्चा पैदा करने में असक्षम बना देगा। लेकिन आज जब आप इस आर्टिकल को पढ़ोगे तो आपके मन से पूरी तरीके से यह बात निकल जाएगी, यह भ्रम निकल जाएगा कि ऐसी भी कोई चीज होती भी है.

वो क्या है ना vidyudabhi.com आपको केवल वैज्ञानिक तथ्य ही बताए जाते हैं जो कहीं और नहीं मिलता है. तो चलिए सबसे पहले वह चीज है क्या ?? यह जानते हैं.

वह चीज जो आजकल के युवाओं को सबसे ज्यादा परेशान करती है वह धात रोग वह हमेशा यह प्रश्न पूछते रहते हैं यह धात गिरना क्या होता है?? धात गिरने से क्या हो सकता है?? क्या धात के नीचे वह किसी भी काम को कर पाने में सक्षम हो जाएंगे।

क्या उनके दिमाग पर इसका असर पड़ेगा क्या वह किसी भी प्रकार से सेक्स कर पाने में सक्षम हो जाएंगे। इन सभी सवालों का जवाब आपको इस आर्टिकल में मिलेगा…

धात क्या होता है –

जब कोई व्यक्ति पेशाब करता है तो उसके लिंग से जब कोई चिपचिपा सा पदार्थ निकलता है तो उसे लोग generally धात कह देते हैं. उनके हिसाब से यह चिपचिपा पदार्थ निकलना उनके स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक है या जब कोई व्यक्ति सुबह-सुबह बाथरूम जाता है फ्रेश होने के लिए तब अत्यधिक जोर लगाने से भी व्यक्ति के लिंग से चिपचिपा पदार्थ निकलता है.

जिससे लोग समझते हैं कि यह उनके लिंग से वीर्य का ह्रास हो रहा है. उनके लिंग से शुक्राणुओं की संख्या लगातार गिरती जा रही है. जो उनके स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक हो जाएगा। पर आपको बता दें विज्ञान में ऐसा कोई चीज होता ही नहीं है.

दरअसल धात कोई चीज होती ही नहीं है. देखिए वीर्य कई सारी चीजों से मिलकर बना होता है. वीर्य में शुक्राणु होते हैं, वीर्य में प्रोस्टेट ग्रंथि के कुछ द्रव भी होते हैं, कुछ काऊपर ग्लैंड (couper gland) के द्रव्य होते हैं. तो कुछ सेमिनल वेसीकल के द्रव होते हैं.

dhat girne se kya hota hai
dhat girne se kya hota hai

यह सब मिलकर जो सफेद चिपचिपा पदार्थ निकलता है लिंग से वही कहलाता है शुक्राणु भी होते हैं. तो कुछ अलग प्रकार के लोग भी होते हैं. जोकि शुक्राणुओं को कुछ देर तक जीवित रखने में मदद करते हैं.

अब जब कोई व्यक्ति कोई कामुक विचार सोचता है या फिर कभी बाथरूम में जाता है तो उसके लिंग से कुछ चिपचिपा पदार्थ निकलता है, वह चिपचिपा पदार्थ यही हैं जो ग्रंथियों से निकलने वाले द्रव होते हैं. तो आप कभी भी इसको लेकर कभी भी मन में शंका मत कीजिएगा।

मिर्च तीखी क्यों है – chilli in hindi – why chilli is hot

धात गिरने से क्या होता है –

तो जैसा कि आप जान ही गए होंगे कि धात गिरना दरअसल हमारे रिप्रोडक्टिव सिस्टम से निकलने वाले कुछ द्रव होते हैं जो वीर्य को यानी शुक्राणुओं को वीर्य के अंदर जीवित रखने में मदद करता है.

जब यह किसी कामुक विचार के आने पर अपने आप धीरे-धीरे बाहर आने लगते हैं तो ऐसा नहीं है कि आपके शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है. हालांकि इन द्रवों का निर्माण भी विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों से ही होता है.

कैसे फटता हैं ज्वालामुखी – volcano in hindi

जब हम भोजन करते हैं तो भोजन से मिलने वाले विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों से इन चीजों का निर्माण होता है. अब अगर आपको दिन में थोड़ा बहुत है कभी-कभी ये चिपचिपा सा द्रव निकल जाता है तो यह आपके लिए बहुत ज्यादा चिंता की बात नहीं है.

और यह कभी भी चिंता की बात है ही नहीं किसी ऐसा कुछ होता ही नहीं है. हां पर अगर ये अनियंत्रित है बहुत ज्यादा तो यह संकेत हो सकता है कि आपके अंदर पोषक तत्वों की कमी हो गई है.

पर्वत किसे कहते हैं – mountain in hindi

जो आप अच्छा-अच्छा खा पीकर अपने अंदर इस इसको सुधार ला सकते हैं तो अब आपके समस्या का समाधान हो ही गया है.