विश्व का सबसे छोटा महाद्वीप कौन सा है

सबसे छोटा महाद्वीप – अगर पूरे पृथ्वी के वक्र पृष्ठ का क्षेत्रफल देखें तो पूरी पृथ्वी का वक्र पृष्ठ का क्षेत्रफल 51 करोड़ किलो मीटर स्क्वायर है.

जिसमें 70% भाग तो पानी से भरा हुआ है और केवल 30% विभाग की जमीन का भाग है.

हमने जमीन के भागों को कई बड़े बड़े भूखंडों में बांट दिया जिसे महाद्वीप कहते हैं.

यह महाद्वीप आकार में बहुत ज्यादा छोटे भी हैं और बहुत ज्यादा विशालकाय भी हैं.

उसको तो संयुक्त रूप से भी इस दुनिया में माना जाता है. जैसे एशिया और यूरोप को मिलाकर यूरेशिया माना जाता है.

कुछ आकार में तो बहुत बड़े हैं लेकिन भौगोलिक स्थिति में वहां के ऐसी नहीं है कि वहां पर बहुत ज्यादा मनुष्य को बसाया जा सके, जैसे अफ्रीका।

तो आप समझ रहे हैं पृथ्वी पर कितनी सारी और असमानताएं हैं कितने सारे अलग-अलग तरह के लोग हैं इस धरती पर.

मध्य प्रदेश का सबसे छोटा जिला कौन सा हैं

पर क्या आप ही जानते हैं धरती का smallest continent कौन सा है.

आपको हर कोई यह बता देता है धरती पर सबसे बड़ा महाद्वीप कौन सा है. पर कोई भी धरती का सबसे छोटा महाद्वीप के बारे में नहीं बताता है.

आज इस आर्टिकल में आपको धरती के सबसे छोटे महाद्वीप के बारे में हम आपको बता ही देते है….

विश्व का सबसे छोटा महाद्वीप –

आपको जानकारी होगी कि धरती पर सबसे बड़ा महाद्वीप एशिया महाद्वीप है. जिसमें हमारा भारत भी आता है.

और पृथ्वी पर सबसे छोटा महाद्वीप ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप है. जी हाँ ऑस्ट्रेलिया देश भी और महाद्वीप भी.

दिल्ली की राजधानी क्या हैं

ऑस्ट्रेलिया को 1 महाद्वीप भी माना जाता है. जो कि मात्र मात्र 77,00,000 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है.

और यह पूरे पृथ्वी के भूभाग का मात्र 5.9% का ही हिस्सा है. जहां पर बहुत ही कम जनसंख्या हैं.

केवल दो से तीन करोड़ लोग ही ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप में रहते हैं. जिसे मुख्यतः अंग्रेज लोगों ने बसाया था.

ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप पूरी तरीके से बंजर जमीन है. जहां पर रहने योग्य जमीन नहीं है.

बिहार का सबसे छोटा जिला कौन सा है 

लेकिन अगर आप इस पोस्ट को इस तरह से देखने लगेंगे धरती पर सबसे छोटा महाद्वीप कौन सा है जहां पर जनसंख्या बिल्कुल कम है.

इसी जनसंख्या के आधार पर सबसे छोटा continenet देखेंगे तो आप पाएंगे अंटार्कटिका धरती का सबसे छोटा महाद्वीप है.

जहां संभवत कोई नहीं रहता है. पूरी तरीके से बर्फ से ढके होने के कारण और पृथ्वी के दक्षिणी ध्रुव होने के कारण यहां पर कोई भी नहीं रहता है.

दुनिया का सबसे बड़ा पुल – biggest bridge in india

अंटार्कटिका का क्षेत्रफल 1,40,00,000 किलोमीटर स्क्वायर है. जो कि एक बहुत बड़ी भूभाग है.

ये ऑस्ट्रेलिया से तो बहुत बड़ा है. लेकिन यहां पर जनसंख्या नहीं है.

इसलिए इस प्रश्न का उत्तर विश्व का सबसे छोटा महाद्वीप कौन सा है.

तो आप ऐसा भी कह सकते हैं कि जनसंख्या के आधार पर तो अंटार्कटिका विश्व का सबसे छोटा महाद्वीप है.