उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा शहर कौन सा है

उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा राज्य है. जहां पर कुल 25 करोड़ जनसंख्या के आसपास लोग रहते हैं. यहां कुल 75 जिले हैं पर उत्तर प्रदेश की सबसे बड़ी खासियत यह है कि उत्तर प्रदेश गांव का राज्य है. यहां पर शहरी जनसंख्या कम है. हालांकि आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश ही भारत का वह राज्य होगा जहां पर सबसे ज्यादा शहरी जनसंख्या निवास करेगी.

कारण यह है कि उत्तर प्रदेश की गांव की जनसंख्या शहरों की तरह बहुत ही तेजी से बढ़ रही है. खेती की तरफ निर्भरता कम करते हुए लोग अब व्यवसाय करने पर आ गए हैं. यही कारण है कि उत्तर प्रदेश में शहरों की संख्या भी अब धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है.

भारत में सबसे ज्यादा चावल उत्पादन किस राज्य में होता है

महाराष्ट्र के बाद भारत में सबसे ज्यादा महानगर वाला राज्य अगर कोई है तो वो उत्तर प्रदेश ही है. और अभी न जाने ऐसे कितने ही शहर और कस्बे होंगे जो महानगर बनने की लिस्ट में लाइन में लगे हुए हैं.

उत्तर प्रदेश की जनसंख्या बहुत ज्यादा है, विश्व के कई देशों से भी ज्यादा है. इसलिए प्रश्न उठता है कि यूपी का सबसे बड़ा शहर कौन सा है. जो आगे चलकर भविष्य में भारत के सबसे बड़े शहर में बदल भी सकता है. तो चलिए जानते हैं…

up ka sabse bada shahar –

कानपुर –

उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा शहर कानपुर है. जहां पर कुल 46 लाख शहरी जनसंख्या रहती है. कानपुर का शहरी विस्तार 1,640 वर्ग किलोमीटर तक बढ़ा दिया गया है. कानपुर में बड़ी जनसंख्या का एक कारण यह भी है कि कानपुर उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा औद्योगिक नगर भी है. हालांकि अब गाजियाबाद कानपुर को पिछड़ा ने में लगा हुआ है. लेकिन कानपुर अंग्रेजों के समय से ही अपने औद्योगिकीकरण के लिए पूरे भारत भर में प्रसिद्ध है.

भारत में सबसे ज्यादा गेहूं का उत्पादन कहां होता है

लखनऊ –

कानपुर के बाद उत्तर प्रदेश के सबसे ज्यादा शहरी जनसंख्या वाले शहरों की बात करें तो वह है लखनऊ। जहां पर कुल 33,00,000 जनसंख्या रहती है और लखनऊ का शहरीकरण भारत में इतना तेजी से है. जितना पूरे भारत में कहीं नहीं। लखनऊ को बहुत ही सुंदर तरीके से डिजाइन किया जा रहा है. लखनऊ में बहुत ही चौड़ी चौड़ी सड़कें हैं. साथ ही यह शहर कानपुर के पास है. और दिल्ली से बहुत ज्यादा दूर भी नहीं।

महिलाओं के बारे में जानकारी – रोचक तथ्य – female facts in hindi

मेरठ –

कुल 31 लाख जनसंख्या के साथ मेरठ उत्तर प्रदेश का तीसरा सबसे बड़ा शहर माना जाता है. जो कि दिल्ली-एनसीआर का ही हिस्सा है. मेरठ शहर के पास में गाजियाबाद शहर है. जहां पर बहुत ही ज्यादा जनसंख्या रहती है. दिल्ली एनसीआर में होने के कारण मेरठ को बहुत ज्यादा सुविधा मिल ही जाती है. ये पश्चिमी उत्तर प्रदेश से ज्यादा जनसंख्या को बसने के लिए प्रेरित करता है.

आदमियों के शरीर के कुछ तथ्य – facts about male body in hindi

आगरा –

कुल 22 लाख जनसंख्या के साथ आगरा नगर निगम उत्तर प्रदेश का चौथा सबसे बड़ा शहर माना जाता है. ताजमहल होने के कारण यहां पर बहुत ज्यादा पर्यटन होता है. जो यहां के इकॉनमी के लिए सबसे बड़ा साधन बन जाता है. यही कारण है कि यहां पर लोग अच्छे आर्थिक कारण होने की वजह से बहुत ज्यादा बसें हुआ.

पेट्रोल और डीजल कैसे बनता है – crude oil meaning in hindi

वाराणसी –

18,00,000 से भी ज्यादा जनसंख्या के साथ वाराणसी नगर निगम उत्तर प्रदेश का पांचवा सबसे बड़ा शहर है. और आने वाले समय में यह उत्तर प्रदेश के कुछ सबसे बड़े शहरों में गिना जाएगा। क्योंकि यहां पर बहुत ही तेजी से शहरीकरण हो रहा है. यहां पर बिहार झारखंड छत्तीसगढ़ और पूर्वांचल से विभिन्न जिलों के लोग सबसे ज्यादा आकर बस रहे हैं. यह कारण है कि यहां पर जनसंख्या उत्तर प्रदेश के किसी भी शहरों में सबसे ज्यादा बढ़ने का दर है.