साँपो का गाँव जहां मनुष्य भी है साँपो के दोस्त

भारत एक पुरातन देश है। जो अपनी सबसे प्राचीन संस्कृति के लिए दुनिया में जाना जाता है। इसलिए भारत में कई ऐसे रहस्य हैं, जो अनसुलझे तो हैं ही, साथ ही आम आदमी के समझ से परे हैं। भारत में कई ऐसी जगहे हैं, जहाँ लोगों का रहन-सहन आम लोगों से अलग और आश्चर्यचकित कर देनेवाला है। ऐसा ही एक आश्चर्य है इस गाँव में, जो पुणे से कुछ ही दूर बसे सोलापुर जिले के अंतर्गत आता है। जिसका नाम है शेतपल।

इस गाँव की खासियत है कि यहाँ हर एक घर में सांपों का बसेरा है। यह गाँव छोटे-मोटे सांपों से नहीं, बल्कि कोबरा सांपों से भरा पड़ा है। जी हाँ, यह कोई मज़ाक नहीं, बल्कि एक जीता-जागता सच है। इस गाँव में लोग हज़ारों कोबरा सांपों के साथ रहते हैं। वयस्क ही नहीं, बल्कि छोटे-छोटे बच्चे भी सांपों को गले में लटकाए घुमते नज़र आते हैं। घर की औरतें सांपों को घर में पालती हैं, जो अक्सर उनके पैरों से लिपटते हुए आपको मिल जाएंगे।

ये एक छोटा सा गाँव है, जिसके बारे में लोग नहीं जानते। पर स्थानीय लोग इस गाँव को सांपों के गाँव के नाम से पहचानते हैं। यह गाँव आर्थिक रूप से पिछड़ा होने की वजह से कई सुविधाओं से परे है। इस वजह से यहाँ लोग सांपों के खेल दिखाकर और इन सांपों की मदद से ही अपनी जीविका चलाते हैं। यही इनकी जीविका का साधन है। इसलिए इस गाँव के हर घर में आपको खतरनाक और ज़हरीले सांप देखने मिल जाएँगे।

Previous articleगुरुद्वारा मे सिर ढककर क्यों जाते हैं
Next articleपुलिस मोबाइल को ट्रेस कैसे करती हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here