सोनभद्र जिला में कुल कितने गांव हैं?

आपको बता दें कि सोनभद्र जिला उत्तर प्रदेश का दक्षिणी पूर्वी हिस्सा है, जो कि विंध्य क्षेत्र में आता है. विंध्य क्षेत्र में आने के कारण यहां की जमीन थोड़ी पठारी है. लेकिन यह प्राकृतिक संपदा से भरपूर आच्छादित है. सोनभद्र जिले में कुल 4 तहसील है, सबसे पहला तहसील है राबर्ट्सगंज, दूसरा तहसील है घोरावल, तीसरा तहसील है ओबरा और चौथा तहसील है दुद्धी। चुकी सोनभद्र उत्तर प्रदेश के कुछ ऐसे जिलों में शामिल है, जहां पर जनसंख्या बाकी जिलों की तुलना में कम है, इसीलिए सोनभद्र में गांवों की संख्या थोड़ी कम है। रिपोर्ट्स के मुताबिक सोनभद्र में कुल 1442 गांव है।

जिसमें से 2019 तक राबर्ट्सगंज तहसील में कुल 755 गांव थे। जो कि सबसे ज्यादा है। आपको जानकर हैरानी होगा की सोनभद्र के कुल क्षेत्रफल में से 3,356 किलो मीटर स्क्वायर अकेले रॉबर्ट्सगंज तहसील का है।

दूसरा तहसील सोनभद्र का जो कि घोरावल है, 2019 उसमें कुल 339 गांव थे। घोरावल का कुल क्षेत्रफल सोनभद्र में 859 किलो मीटर स्क्वायर है। जहां लगभग लगभग 300000 लोग रहते हैं।

वही सोनभद्र का दक्षिणतम तहसील दुद्धी 2,690 किलो मीटर स्क्वायर के क्षेत्र में फैला हुआ है। जहां कुल गांव की संख्या 293 है। दुद्धी तहसील में कुल 6,70,000 लोगों की जनसंख्या है। जो कि 2011 के जनगणना के अनुसार है।

नवसृजित ओबरा तहसील में राबर्ट्सगंज के कुल 105 गांवों को निकालकर और घोरावल तहसील से कुल 10 गांवों को निकाल कर एक नया तहसील बनाया जा रहा है। जहां कुल 115 गांवों की संख्या होगी। इस हिसाब से देखें तो आप राबर्ट्सगंज तहसील में कुल 650 गांव हैं और ओबरा तहसील मैं 115 गांव है और घोरावल तहसील में कुल 329 गांव।

सोनभद्र जिला में कुल कितने गांव हैं?
Previous articleसोनभद्र कितने राज्यों को छूता है?
Next articleसोनभद्र जिला कौन से राज्य में है?